Home Politics आलोचक भी मानते हैं कि दिल्ली के शिक्षा क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव हुआ है : अरविंद केजरीवाल

आलोचक भी मानते हैं कि दिल्ली के शिक्षा क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव हुआ है : अरविंद केजरीवाल

by HE Times

— राजेश सिन्हा —


ल्ली के त्यागराज स्टेडियम में सीएम अरविंद केजरीवाल ने फिनलैंड, सिंगापुर और कैंब्रिज जाकर ट्रेनिंग ले चुके सरकारी स्कूलों के टीचर्स-प्रिंसिपल्स से संवाद किया और कहा कि दिल्ली की शिक्षा क्रांति में हमारे टीचर्स को मिली ट्रेनिंग ने अहम भूमिका निभाई है।
दिल्ली की शिक्षा क्रांति की कई उपलब्धियां हैं। टेंट वाले स्कूल अब टैलेंट वाले स्कूल बन गए, शानदार इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ टीचर्स की ट्रेनिंग से स्कूल में माहौल बदला और नतीजे अच्छे आने लगे हैं। अब हमारे आलोचक भी मानते हैं कि दिल्ली के शिक्षा क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव हुआ है। यह हमारे टीचर्स, प्रिंसिपल्स और दिल्ली के दो करोड़ लोगों की उपलब्धि है।
अब हम चाहते हैं कि दिल्ली के सरकारी स्कूल विश्व के स्कूलों से अच्छे बने। पंजाब में भी शिक्षा क्रांति पहुंच गई है। वहां हर विधानसभा में एक ‘स्कूल ऑफ एमिनेंस’ चालू हो रहा है और टीचर्स का पहला बैच सिंगापुर ट्रेनिंग के लिए जा रहा है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि देश में सामंती सोच चली आ रही कि सरकारी स्कूलों में गरीब बच्चों को पढ़ाने वाले टीचर्स को ट्रेनिंग के लिए विदेश भेजने की क्या जरूरत है? पहली बार हम सरकारी स्कूलों के टीचर्स और प्रिंसिपल को दुनिया की अच्छी से अच्छी ट्रेनिंग दिलवाने की कोशिश कर रहे हैं। अगर आजादी के बाद एक योजना बना लेते कि अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देंगे, तो अभी तक देश से गरीबी दूर हो गई होती।

उन्होंने कहा कि अगर एलजी साहब भी टीचर्स के अनुभवों को सुनते तो उन्हें दिल्ली का एलजी होने पर गर्व होता। मैं एलजी साहब को टीचर्स के अनुभवों की वीडियो भेजूंगा। उम्मीद है कि इसके बाद वो फिनलैंड की फाइल नहीं रोकेंगे।

 

 

दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम में आज सीएम श्री अरविंद केजरीवाल के साथ डिप्टी सीएम श्री  मनीष सिसोदिया ने फिनलैंड, सिंगापुर और यूके के कैंब्रिज जाकर ट्रेनिंग ले चुके दिल्ली सरकार के स्कूलों के टीचर्स, स्कूल प्रमुखों, टीचर एजुकेटर्स के साथ संवाद किया। इस दौरान विधायक आतिशी, विधायक मदन लाल, शिक्षा विभाग के सचिव अशोक कुमार, निदेशक हिमांशु गुप्ता, एससीईआरटी के निदेशक रजनीश गुप्ता और एडिशनल डायरेक्टर (स्कूल) डॉ. रीता शर्मा समेत अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे। सीएम अरविंद केजरीवाल ने अन्य गणमान्यों के साथ दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की। इस दौरान शिक्षकों ने टॉप के विदेशी कालेजों व यूनिवर्सिटी में मिली ट्रेनिंग के अनुभवों को मुख्यमंत्री के साथ साझा किया। 

You may also like

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy